फिर से शुरू होने वाला है हमारी सरकार गिराने का खेल-अशोक गहलोत ने सचिन पायलट पर फिर से साधा निशाना

फिर से शुरू होने वाला है हमारी सरकार गिराने का खेल नमस्कार दोस्तों स्वागत है आप सभी का एक बार फिर से नई खबर के साथ एक बार फिर से सूबे की सरकार पर राजनीतिक संकट मंडरा रहा है राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि एक बार फिर से हमारी सरकार गिराने का खेल रचा जा रहा है।

क्या एक बार फिर से राजस्थान की सरकार पर सरकार गिराने का खेल रचा जा रहा है?

क्या एक बार फिर से कांग्रेस के बागी नेताओं की गहलोत के नेताओं के साथ टकराव बढ़ गया है?

बिल्कुल आपको बता दें कि ऐसा ही कुछ आजकल अशोक गहलो त को लगने लगा है कि एक बार फिर से राजस्थान की सरकार को गिराने का भरसक प्रयास किया जा सकता है।

गहलोत ने आरोप लगाया कि एक बार फिर से सरकार गिराने का खेल रचा जा रहा है कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए गहलोत ने कहा कि एक बार फिर से हमारी सरकार गिराने का खेल शुरू होने वाला है महाराष्ट्र में भी सरकार गिराने का खेल शुरू होने की चर्चाएं जारी हैं भाजपा की ओर से या खेल शुरू होने वाला है।

20201206 070722115933947784595565

आपको बता दें कि राजस्थान में जल्द ही मंत्रिमंडल का विस्तार होने वाला है ऐसे में बिना नाम लिए सचिन पायलट पर हमले के सियासी मायने निकाले जा रहे हैं इस सबके बीच गहलोत ने एक बार फिर से राजस्थान की सरकार पर संकट के बादल छाने की बात कही है।

हालांकि यह सब कहने के बाद कहा जा रहा है कि वह भाजपा का नाम लेते हुए राजस्थान के पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट पर निशाना साध रहे हैं।

वही इस तरह की बयानबाजी के बाद भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने भी अब पलटवार किया है पुनिया ने कहा कि अशोक गहलोत राजस्थान की सरकार चलाने में अक्षम है इसलिए झूठा और तथ्य इन आरोप लगा रहे हैं। कांग्रेस के घर के अंदर अंदरूनी झगड़ा है जिसकी वजह से वह परेशान है इसके लिए बीजेपी पर बिना कोई सबूत के आरोप लगा रहे हैं।

पुनिया ने कहा कि अशोक गहलोत सरकार गिराने को लेकर रोज रोज नई कहानियां लेकर आ जाते हैं जैसे भेड़िया आया…… भेड़िया आया। कांग्रेस के नेताओं में आपसी कलह इतनी है कि वह इस कलर को बुझाने के लिए भाजपा के नेताओं पर दोष लगा देते हैं।

विदित हो कि राजस्थान सरकार की मंत्रिमंडल में विस्तार से पूर्व ही सियासी खलबली शुरू हो चुकी है भाजपा की ओर से इस साजिश के गवाह अजय माकन रहे हैं कांग्रेस के नेता अजय माकन 34 दिनों तक होटल में रहे थे।

उन्होंने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पर आरोप लगाया है कि वे हमारे नेताओं को होटलों में बिठाकर चाय नमकीन खिला रहे थे और बता रहे थे कि हमने 5 सरकारें गिरा दी हैं छठी सरकार भी गिराने वाले हैं कुछ दौरान केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान भी उनका साथ दे रहे थे और यह कह रहे थे कि हम जजों से बातचीत कर रहे हैं उस दौरान उन्होंने अपने नेताओं को बर्खास्त किया तब जाकर सरकार बच्ची।

वह बोले पिछली बार प्रदेश की पूरी जनता हमसे कह रही थी कि सरकार गिरने नहीं चाहिए। विधायकों को भी फोन के जरिए बता रहे थे कि हमारी सरकार गिरनी नहीं चाहिए।

राजस्थान कन्या शादी सहयोग योजना Click here

राजस्थान की तमाम खबरों के लिए आप हमारी वेबसाइट को विजिट करते रहें

Leave a Comment